Shani Chalisa

जय श्री शनिदेव भगवान्।
जय श्री शनिदेव भगवान्।

जय श्री शनिदेव भगवान्।
की पवन शान्ति प्रदान।।

चालीसा विन्यास गुण सागर।
ज्ञान दृष्टि सुख दाता नागर।।

जय श्री शनिदेव भगवान्।
की पवन शान्ति प्रदान।।

शनि चालीसा करत विनती।
हरहु शनि महाराज मम संकटी।।

जय श्री शनिदेव भगवान्।
की पवन शान्ति प्रदान।।

जो कोई भक्त शनि चालीसा।
होय सिद्धि सकल उस मन तीसा।।

जय श्री शनिदेव भगवान्।
की पवन शान्ति प्रदान।।

शनि महाराज की आरती।
जो कोई नर गावै।।

जय श्री शनिदेव भगवान्।
की पवन शान्ति प्रदान।।

चौपाई
जो सत बार पाठ कर कोई।
छूटहि बंधि महा सुख होई।।

जय श्री शनिदेव भगवान्।
की पवन शान्ति प्रदान।।

बिनय करहु सन्तन प्रभु बछाय।
हरहु शनि महाराज जगदम्ब सय।।

जय श्री शनिदेव भगवान्।
की पवन शान्ति प्रदान।।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *